तानाशाही

भारत ने कैसे खाली किया अपना दूतावास, जो तालिबान की निगरानी में था

काबुल से रवाना हुई भारतीय वायु सेना सी-17 आज गुजरात के जामनगर में उतरी

९७
नई दिल्ली: भारतीय वायु सेना के दो सी-17 ट्रांसपोर्ट ने मिशन की रक्षा करने वाले भारत-तिब्बत सीमा पुलिस कर्मियों सहित भारतीय दूतावास के कर्मियों को निकालने के लिए 15 अगस्त को काबुल में उड़ान भरी।  सूत्रों ने यह जानकारी दी। भारतीय मिशन के कर्मचारियों को जिन चुनौतीपूर्ण और कठिन परिस्थितियों में निकाला गया, उसका विवरण अब सामने आया है।
सूत्रों ने कहा कि 15-16 अगस्त की दरम्यानी रात में सुरक्षा की स्थिति काफी खराब हो गई और तब लोगों को निकालना संभव नहीं हो सका। भारतीय दूतावास कथित तौर पर तालिबान द्वारा भी निगरानी में था, और उच्च सुरक्षा वाले ग्रीन ज़ोन – भारी गढ़वाले जिले जिसमें अधिकांश दूतावास और अंतर्राष्ट्रीय संगठन हैं – का उल्लंघन किया गया था।

सूत्रों ने कहा कि तालिबान ने शाहिर वीजा एजेंसी पर छापा मारा, जो भारत की यात्रा करने वाले अफगानों के लिए वीजा की प्रक्रिया करती है।

उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना के पहले विमान से कल निकाले गए 45 भारतीय कर्मियों के पहले जत्थे को तालिबान के संतरी ने हवाई अड्डे के रास्ते में रोक दिया।

सूत्रों ने बताया कि तालिबान ने हवाईअड्डे की ओर बढ़ते हुए कुछ भारतीय स्टाफ सदस्यों के निजी सामान छीन लिए।

कल काबुल से रवाना हुए पहले भारतीय परिवहन विमान ने काबुल हवाई अड्डे पर अराजकता को देखते हुए बहुत ही चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में उड़ान भरी, जहां हजारों हताश अफगान देश से बाहर उड़ान भरने की उम्मीद में पहुंचे थे।

भारतीय राजनयिक और सुरक्षा दल के शेष सदस्य कल हवाईअड्डे के रास्ते बंद होने और हवाईअड्डे पर भीड़ होने के कारण खाली नहीं हो सके।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और विदेश मंत्री एस जयशंकर के बीच रात भर की बातचीत से शायद आज सुबह भारतीय कर्मियों को काबुल हवाई अड्डे पर ले जाने में मदद मिली हो।
शेष सभी भारतीय मिशन सदस्य – उनमें से 120 से अधिक – राजदूत रुद्रेंद्र टंडन सहित, दूसरे IAF C-17 में सवार हुए और आज सुबह सुरक्षित रूप से अफगान हवाई क्षेत्र से निकलकर गुजरात के जामनगर में उतरे।

काबुल से रवाना हुई भारतीय वायु सेना सी-17 आज गुजरात के जामनगर में उतरी

९७
नई दिल्ली: भारतीय वायु सेना के दो सी-17 ट्रांसपोर्ट ने मिशन की रक्षा करने वाले भारत-तिब्बत सीमा पुलिस कर्मियों सहित भारतीय दूतावास के कर्मियों को निकालने के लिए 15 अगस्त को काबुल में उड़ान भरी। सूत्रों ने यह जानकारी दी। भारतीय मिशन के कर्मचारियों को जिन चुनौतीपूर्ण और कठिन परिस्थितियों में निकाला गया, उसका विवरण अब सामने आया है।
सूत्रों ने कहा कि 15-16 अगस्त की दरम्यानी रात में सुरक्षा की स्थिति काफी खराब हो गई और तब लोगों को निकालना संभव नहीं हो सका। भारतीय दूतावास कथित तौर पर तालिबान द्वारा भी निगरानी में था, और उच्च सुरक्षा वाले ग्रीन ज़ोन – भारी गढ़वाले जिले जिसमें अधिकांश दूतावास और अंतर्राष्ट्रीय संगठन हैं – का उल्लंघन किया गया था।

सूत्रों ने कहा कि तालिबान ने शाहिर वीजा एजेंसी पर छापा मारा, जो भारत की यात्रा करने वाले अफगानों के लिए वीजा की प्रक्रिया करती है।

उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना के पहले विमान से कल निकाले गए 45 भारतीय कर्मियों के पहले जत्थे को तालिबान के संतरी ने हवाई अड्डे के रास्ते में रोक दिया।

सूत्रों ने बताया कि तालिबान ने हवाईअड्डे की ओर बढ़ते हुए कुछ भारतीय स्टाफ सदस्यों के निजी सामान छीन लिए।

7ui51vl
काबुल हवाईअड्डे पर कल उस समय अफरातफरी मच गई जब हजारों लोग वहां से उड़ान भरने की उम्मीद में पहुंचे

कल काबुल से रवाना हुए पहले भारतीय परिवहन विमान ने काबुल हवाई अड्डे पर अराजकता को देखते हुए बहुत ही चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में उड़ान भरी, जहां हजारों हताश अफगान देश से बाहर उड़ान भरने की उम्मीद में पहुंचे थे।

भारतीय राजनयिक और सुरक्षा दल के शेष सदस्य कल हवाईअड्डे के रास्ते बंद होने और हवाईअड्डे पर भीड़ होने के कारण खाली नहीं हो सके।

अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और विदेश मंत्री एस जयशंकर के बीच रात भर की बातचीत से शायद आज सुबह भारतीय कर्मियों को काबुल हवाई अड्डे पर ले जाने में मदद मिली हो।

शेष सभी भारतीय मिशन सदस्य – उनमें से 120 से अधिक – राजदूत रुद्रेंद्र टंडन सहित, दूसरे IAF C-17 में सवार हुए और आज सुबह सुरक्षित रूप से अफगान हवाई क्षेत्र से निकलकर गुजरात के जामनगर में उतरे।

९७
टिप्पणियाँ
अफगानिस्तान में भारत के राजदूत रुद्रेंद्र टंडन ने जामनगर में उतरने के बाद कहा, “आपके स्वागत का हम सभी पर प्रभाव है। भारतीय वायु सेना को धन्यवाद, जिन्होंने हमें ऐसी परिस्थितियों में बाहर निकाला जो सामान्य नहीं हैं।”

Awaaz Bharat

Awaaz Bharat is your news, entertainment, music fashion website. We provide you with the latest breaking news and videos straight from the entertainment industry.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close